go2top

आचार संहिता और
स्व-मूल्यांकन गाइड

हालाँकि, भारतीय लोगों को सोने से बहुत लगाव है, लेकिन सोना खरीदने के इच्छुक उपभोक्ताओं को मूल्य पारदर्शिता, गुणवत्ता आश्वासन आदि के संबंध में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। चूँकि, यह उद्योग बंटा हुआ है, इसलिए कोई व्यापक सुपरवाइज़री बॉडी नहीं है। इसलिए, स्वर्ण उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा करने और उद्योग को सतत विकास प्रदान करने के लिए स्व-मूल्यांकन गाइड (एसएजीएस) के साथ-साथ उद्योग-परिभाषित आचार संहिता को एक प्रभावी तंत्र माना जाता है।

एक वृहद प्रश्नावली के माध्यम से स्व-मूल्यांकन गाइड (एसएजी) संगठनों को सुधार के क्षेत्रों की पहचान करने में मदद करेगी और सभी संगठनों पर लागू होगी, चाहे उनका आकार कुछ भी हो। इन आचार संहिताओं को प्रभावी ढंग से अपनाने से उपभोक्ताओं का सोने में विश्वास बढ़ेगा। बदले में, यह उपभोक्ताओं और उद्योग, दोनों को समान रूप से लाभान्वित करेगा। ये दस्तावेज़ उस दिशा में एक कदम हैं, क्योंकि यह स्व-विनियमित आचार संहिता को पेश करता है और संगठनों को उनके वर्तमान प्रदर्शन और उनके द्वारा सोने की मूल्य श्रृंखला में अपनाई जा रही प्रथाओं का आकलन करने में मदद करता है।

खुदरा बिक्री

डॉकेट डाउनलोड करें

डिजिटल गोल्ड की खुदरा बिक्री

डॉकेट डाउनलोड करें

बुलियन ट्रेडिंग

डॉकेट डाउनलोड करें

परख और हॉलमार्किंग

डॉकेट डाउनलोड करें